Masala Diary



मौज में उम्र बाधा नहीं

हमारा देश अभी इस मामले में पीछे है पर जापान की जवान और खूबसूरत लड़कियों के बीच आजकल एक ट्रेंड तेजी से बढ़ता जा रहा है...
हमारा देश अभी इस मामले में पीछे है पर जापान की जवान और खूबसूरत लड़कियों के बीच आजकल एक ट्रेंड तेजी से बढ़ता जा रहा है. ये लड़कियां अपने शौक पूरे करने के लिए अपनी सुंदरता का इस्‍तेमाल कर रही हैं और उम्रदराज अमीर आदमियों को अपना पार्टनर बनाकर उसे भी मजा दे रही और खुद भी मजे ले रहीं. इन्हें वह शुगर डैडी बताती हैं और उनसे मिलने वाले गिफ्ट और पैसों से बिंदास लाइफ स्‍टाइल जीती हैं. \n\n सुंदर दिखने वाली लड़कियां अपने लुक्‍स का इस्‍तेमाल अपने लिए पार्टनर ढूंढने में कर रही हैं. यह पार्टनर कोई अधेड़ उम्र का ामीर आदमी होता है. पहले यह उसको अपनी अदाओं से लुभाती हैं और फिर बिस्तर पर इतने मजे दे देती हैं कि वह आदमी पागल हो जाता है. फिर ये उसको मंहगे तोहफे और पैसों से मालामाल कर देता है. इसे वे मुआवजा डेटिंग कहती हैं, जहां ये लड़कियां एक खूबसूरत गर्लफ्रेंड के तौर पर इन मर्दों को अपना साथ और समय देती हैं और बदले में मर्द उन्‍हें तोहफे और दौलत से उसकी भरपायी करता है. \n\n आम बोलचाल की भाषा में जिन्‍हें शुगर डैडी कहते हैं उन्‍हें जापान में पापाकास्‍तु कहा जा रहा है. पापाकास्‍तु इन लड़कियों को अपने साथ डिनर डेट और किसी भी मनचाही जगह पर ले कर जाते हैं. एक अलग किस्‍म की जिस्मफरोशी जैसा यह काम जापानी लड़कियों को काफी पसंद आ रहा है. \n\n हालाकि ऐसे मामलों में कई बार लड़कियां धोखेबाजी का शिकार भी होती हैं. एक लड़की ने बताया कि उसका ऐसा ही पार्टनर उसे अपने साथ फन करने और डिनर डेट पर ले गया. बदले में उसने लड़की से डिनर का बिल चुकाने के अलावा करीब 20000 येन (जापानी मुद्रा) देने का वादा किया, लेकिन लड़की के साथ मनचाहा वक्‍त बिता कर वो शख्‍स डिनर पर खाना खत्‍म होते ही बाथरूम से हो कर आने के लिए कह कर गया और वापस ही नहीं लौटा. \n\n लड़की को खाने का बिल तो देना ही पड़ा बाकी पैसों से भी हाथ धोना पड़ा. बाद में पुलिस ने भी उसकी मदद करने से इनकार कर दिया क्‍योंकि ये तो पर्सनल अंडरस्‍टैंडिंग का मामला था, जिसका कोई कानूनी मामला नहीं बनता. \n\n सच तो यह है कि शरीर और पैसे के मजे कौन नहीं लेना चाहता. उम्रदराज लोगों को तन का सुख नए तरीके से मिल रहा है और जवान लड़कियों की जरूरतें इससे पूरी हो जा रहीं हैं. कुछ लोगों के लिए यह जवान बने रहने की दवा भी है. जाहिर है ऐसा मानने वालों के लिए धंधा बुरा नहीं. \n\n

खिलौने दे रहे मजा

अपने देश में इसका अधिक चलन नहीं. गंवई इलाके के लोग वैसे तो जानते भी नहीं और शहरों के अधिकतर लोग ,जो सेक्स खिलौनों के बारे में जानते हैं...
अपने देश में इसका अधिक चलन नहीं. गंवई इलाके के लोग वैसे तो जानते भी नहीं और शहरों के अधिकतर लोग, जो सेक्स खिलौनों के बारे में जानते हैं, वे भी कभी इसे खरीदते नहीं. इसकी वजह शायद इनके बारे में फैली गलत धारणाएं हैं. अपने यहां आम राय यह है कि सेक्स खिलौनों का इस्तेमाल वे लोग करते हैं, जिनके पास सेक्स पार्टनर नहीं. जबकि सच यह है कि सेक्स खिलौने आप के सेक्स जीवन को और बेहतर बनाने का काम कर सकते हैं. \n\n ऐसे ही खिलौनों में वाइब्रटर्स, डिलडो और हस्त मैथुन के सेक्स खिलौने सेक्स का मजा दोगुना कर देते हैं. एक आम दुविधा जो अकसर महिलाओं को परेशान करती है, वो यह है कि इन खिलौनों के युज से उनकी सामान्य संवेदनशीलता को नुकसान न पहुंचे. पर इस शंका का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. \n\n इनके प्रयोग के बाद सामान्य ओर्गास्म नहीं होता, ये बात बिलकुल गलत है. 90 के दशक में किए गए एक अमरीकी रिसर्च से पता चला था कि इनका प्रयोग करने वाली महिलाओं में से 50 प्रतिशत महिलाएं हस्तमैथुन के दूसरे तरीकों का भी प्रयोग सामान्य तरीके से करती हैं. \n\n ये खिलौने सिर्फ नयेपन और बदलाव का साधारण जरिया भर हैं, और ये आपके पार्टनर की जगह नहीं ले सकते. ये आपको बाहों में नहीं भर सकते न चुंबन कर सकते हैं. यही नहीं यह आपके कानो में प्यार से 'आई लव यू' भी नहीं कहने वाले. \n\n कई रिसर्च साफ करते हैं कि जो लोग सेक्स खिलौनों का प्रयोग करते हैं, उन्हें उनके सामान्य सेक्स रिलेशन में औरों की तुलना में ज़्यादा ओर्गास्म और संतुष्टि होती है. यह आपको खुद के और अपने साथी के सेक्स से जुडी इच्छाओं के बारे में और अच्छी तरह समझा सकते हैं. \n\n यह ज़रूरी नहीं कि आप सबसे महंगे खिलोने खरीदें, लेकिन सलाह यही है कि सस्ते की बजाय अच्छी क्वालिटी के खिलौने खरीदें. इन्हे साफ़ रखना और सही देखभाल करना भी जरूरी है. यदि आप किसी के साथ इन्हें बांटने की सोच रहे हैं तो सावधानी बरतना बेहद ज़रूरी है. ऐसे हालातों में इनका प्रयोग कंडोम के साथ बेहतर है, और प्रयोग के बाद उसकी सफाई करना बिलकुल न भूलें. हमेशा याद रखें: पानी और बिजली एक साथ नहीं रह सकते. जी हां, नहाते समय इन का इस्तेमाल बिलकुल ना करें. \n\n वैसे बाज़ार में बहुत सारी ऐसी चीज़ें है, जैसे की स्प्रे, जेल, अंग पर पहनने वाला छल्ला, पीछे लगाने वाले खिलौने, यहां तक कि सेक्स फर्निचर, जैसे की एक ख़ास तरह का झूला. यह सब चीज़ें सेक्स के आनंद में इजाफा लाने के लिए ही बनाई गई हैं, इसलिए इस्तेमाल करें, पर सावधानी से. \n\n

© All Rights Reserved 2017

Laoding...